Live

- सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्तियों को पहुंचाएं थे अस्पताल। 

बेतिया। सोमवार को अपर समाहर्ता कार्यालय प्रकोष्ठ में सड़क दुर्घटना में पीड़ितों को निःस्वार्थ भाव से चिकित्सालय पहुंचाने एवं अन्य सहायता उपलब्ध कराये जाने पर दो व्यक्तियों को ’गुड सेमेरिटन’ के रूप में सम्मानित किया गया। अपर समाहर्ता, पश्चिम चम्पारण, श्री नंदकिशोर साह एवं जिला परिवहन पदाधिकारी, राजेश कुमार सिंह द्वारा संयुक्त रूप से उक्त दोनों व्यक्तियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

’गुड सेमेरिटन’ का पुरस्कार पाने वालों में श्री अजीत शर्मा, पिता-श्मुन्नी लाल शर्मा, ग्राम-सेखौना मठ, पोस्ट-पिपरा पकड़ी, थाना-मुफस्सिल, बेतिया तथा श्री जगदीश पासवान, पिता-श्री मोहर्रम पासवान, ग्राम-सेखौना मठ, पोस्ट-पिपरा पकड़ी, थाना-मुफस्सिल, बेतिया के नाम शामिल हैं।

अपर समाहर्ता, श्री साह ने कहा कि ’गुड सेमेरिटन’ व्यक्ति वह होता है जो दुर्घटना के समय पीड़ित को आपातकालीन मेडिकल या नाॅन मेडिकल मदद सद्भावनापूर्वक, स्वैच्छिक और बिना किसी पुरस्कार की अपेक्षा के देता है। उन्होंने कहा अगर सहायता प्रदान करने में कतिपय कारणों से दुर्घटना के शिकार व्यक्ति को किसी प्रकार की चोट लगती है या उसकी मृत्यु हो जाती है तो गुड सेमेरिटन किसी दीवानी या आपराधिक कार्रवाई के लिए उतरदायी नहीं होगा।

उन्होंने सड़क दुर्घटना में घायलों को अस्पताल पहुंचाने वाले व्यक्तियों की सराहना करते हुए उनका हौसला आफजाई किया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को सड़क दुर्घटना में घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाना चाहिए। इस दरम्यान उनसे किसी भी तरह की कोई भी पूछताछ नहीं की जायेगी तथा इस तरह से मानवता की सेवा भी की जा सकेगी।

जिला परिहवन पदाधिकारी ने बताया कि वर्ष 2019 में ग्राम-पिपरा, मुफस्सिल थाना, बेतिया के समीप सड़क दुर्घटना घटित हुयी थी। जिसमें उपरोक्त दोनों व्यक्तियों द्वारा मानवता की परिचय देते हुए घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया था। इसी के परिप्रेक्ष्य में जिला सड़क सुरक्षा समिति, पश्चिम चम्पारण, बेतिया द्वारा उन्हें ’गुड सेमेरिटन’ सम्मान से प्रशस्ति पत्र देकर नवाजा गया है।


Posted by

Raushan Pratyek Media


जरूर पढ़ें