Live

गोड्डा झारखंड से संजीव कुमार झा की रिपोर्ट:-

गोड्डा : गोड्डा वो जितनी बार भी आए यहां तेज बारिश और ओलावृष्टि जरूर हुआ। 25 मई 1983 को भी ओलावृष्टि और बारिश जबदस्त हुई थी। दोपहर बाद उनका कार्यक्रम था मेला मैदान में। उस समय का बना हुआ मंच आज भी जीर्णशीर्ण अवस्था में पड़ा  हुआ है। इस मंच पर चढ़ कर ही डॉ मिश्र ने भाषण दिया था और गोड्डा को जिला के रूप में पहचान दी।

जगन्नाथ मिश्र बिहार की राजनीति में काफी सक्रिय थे। काँग्रेस के वे अंतिम मुख्यमंत्री रहे। उनके कार्यकाल के बाद आज कॉग्रेस बिहार में अपनी वजूद की तलाश में जुटी हुई है।

चारा घोटाले में उनका भी नाम शामिल था। कई वर्ष वो भी जेल में रहे लेकिन बाद में वे बरी हो गए।

आज गोड्डा को जिला बने 38 साल हो गए। यादें धुंधली हो गयी। मंच टूटने लगा और उनके द्वारा उद्घाटन किया गया शिलापट्ट बड़ी मुश्किल से उकेरे गए नाम को किसी तरह संजो कर रखा है।

जिला प्रशासन से अनुरोध है कि उस मंच का जीर्णोद्धार कर उसे स्मारक के रूप में तब्दील किया जाए।।


Posted by

Raushan Pratyek Media


जरूर पढ़ें