Live

शेखपुरा बरबीघा घाटकुसुम्भा अरियरी।

इस बेमौसम बारिश ने रबी फसल के किसानो की कमर तोड़ कर रख दी है। लगातार बारिश से खेत और खलिहान में पानी जमा हो जाने का भी समाचार मिला है। खेतो में खड़े सरसों और गोटा तो पहले के बारिश में ही जमींदोज हो चूका था। इस बार के तेज़ बारिश ने चना, मसूर, खेसाड़ी, मटर आदि को काफी नुकसान पहुचाया है। गेहूं के लहलहाती फसल को भी भारी नुकसान पंहुचा है। खासकर जिले के टाल क्षेत्र के विस्तृत भूमि लगे और तैयार दलहन व तेलहन की फसलें इस वर्षा से बर्बाद हो गई। मालूम हो कि यह जिला प्याज उत्पादन में देश मे अपना एक स्थान रखता है। जिले के हजारों एकड़ भूमि में किसानों द्वारा  प्याज की फसल लगाई गई थी। इस बेमौसम बारिश ने किसानों के लहलहाते प्याज की फसलों को नेस्तनाबूद कर दिया। खेतों में लगी साग सब्जियों की फसलें भी नष्ट हो गई। किसान अब खेतो में तैयार फसल की  कटनी में लगने वाले थे। इसी बीच असमान से बरसे आफत ने उनके सपनों को तबाह कर दिया। जिले के सब्जी उत्पादक किसान खासकर प्याज उपजाने वालो को भी इस बेमौसम बारिश ने नुकसान उठाना पड़ा है. इस बारिश की मार जिले के आम के मंजर पर भी पड़ा है। इस बारिश से किसान ठगे ठगे से महसूस कर रहे हैं।।


Posted by


जरूर पढ़ें