Live

:- पूर्णिया पूर्व से कुमार ध्रुव की रिपोर्ट

पूर्णिया। मुफस्सिल थाना क्षेत्र के रजीगंज पंचायत स्थित रजीगंज घाट टोला के पास श्मशान घाट पर सोमवार दोपहर लाश को उखाड़ कर एक घंटा तक किया गया झाड़-फूंक ।लाश जीवित नहीं होने पर शव को पुनः गाड़ दिया गया।घटना के संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि रजीगंज पंचायत की बड़ी मुसहरी निवासी स्वर्गीय देवेन ऋषि की 15 वर्षीय पुत्री की मौत चार दिन पूर्व हुआ था।हिंदू रीति रिवाज के साथ शव को दफना दिया गया था। उसी परिवार के झाड़ फूंक करने वाला एक ओझा ने मृतक के पूरे परिवार के साथ श्मशान घाट लेकर पहुंचे और परिवार के लोगों को कहा शव को खोदकर बाहर निकालो। हम उन्हें जीवित करेंगे ।परिवार के लोग शव को शमशान से खोदकर बाहर किया और उस ओझा ने उन्हें झाड़-फूंक करने लगा।करीब दो घण्टा तक हाइ वोल्टेज ड्रामा चला।अफवाह से गर्म रहा पूरा रानीपतरा का ग्रामीण क्षेत्र।बता दे कि झारफुक करने वाले बाबा के द्वारा पहले पीड़ित परिवार को डराया जाता है और पीड़ित परिवार को डरा धमका कर वसूली जाती है बड़ी रकम ।आज भी ग्रामीण क्षेत्रों में अंधविश्वास पर लोग टिका हुआ है। जिसके कारण झारफुक करने वाले बाबा के द्वारा हमेसा ग्रामीण क्षेत्रों को ही अपना निशाना बनाया जाता है।बता दे कि उस दिन महानवमी भी था ।आधे से ज्यादा गाँव के लोग पूजा अर्चना में बियस्त थी ।इस घटना को देखकर आसपास गांव के लोग सैकड़ों की संख्या में  उमर पड़े। लोगों की हुजूम लग गया। लोगों में तरह-तरह के सवाल घंटों करने लगे। अंत में जब जीवित नही हुआ तो कहा की अब शव जीवित नही होगा।शव गाड़ दो ।इसी बात को लेकर ग्रामीणों ने काफी बवाल किया। इस घटना को लेकर अभी भी आसपास के लोगों में तरह-तरह की चर्चा हो रही है ।


Advertisements

Posted by : Raushan Pratyek Media

Follow On :


जरूर पढ़ें

Stay Connected