Live

- नदी में डाक बम की सुरक्षा को एनडीआरएफ की टीम बोट से करते रहे गस्त।

- डाक बम मेला का सीसीटीवी से होता रहा निगरानी।

-डीडीसी अखिलेश कुमार सिंह ने  संगम घाट पर नियत्रंण कक्ष मे बैठ बिधि व्यवस्था की कमान संभाले रहे।

पूर्वी चंपारण।  पताही बागमति एवं लालबकेया नदी के संगम तट देवापुर में जलबोझी करने आये डाक बम कावरियों की सुरक्षा को लेकर जिला प्रसासन द्वारा देवापुर नियंत्रण कक्ष से संगम तट तक चप्पे चप्पे पर पुलिस बल एवं महिला पुलिस बल की तैनाती किया गया है। संगम घाट पर जिले के डीडीसी अखिलेश कुमार सिह  खुद बिधि व्यवस्था की कमान संभाले थे , और ध्वनि विस्तारक यंत्र से डाक  बम कावरियों एवं पुलिस बल को दिशा निर्देश देते रहे। डीएसपी दिनेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि संगम घाट पर डाक बम की सुरक्षा को 15 पुलिस पदाधिकारी के साथ 50 पुलिस बल के जवानों को लगाया गया है।


नदी में डाक बम के सुरक्षा को एनडीआरएफ लगातार करते रहे गश्त।


बागमति एवं लालबकेया नदी के संगम तट के जलबोझी वाले नदी के  क्षेत्र में जलबोझी कर रहे डाक बम कावरियों के सुरक्षा को लेकर एनडीआरएफ की टीम  को बोट के साथ तैनात किया गया था , एनडीआरएफ  की टीम पूरे जलबोझी वाले क्षेत्र में सुबह से ही  देर रात्रि तक लगातार गस्त करते रहे। वही नदी में एनडीआरएफ की टीम के साथ एक दर्जन नाविकों को नाव के साथ तैनात किया गया था।


डाक बम मेला का सीसीटीवी से होता रहा निगरानी।


देवापुर संगम घाट पर जलबोझी को आने वाले डाक बम के लिय लगे डाक बम मेला की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से भी होती रही। पूरे मेला क्षेत्र में कई स्थलों पर सिसिटीबी लगाया गया था। जिसकी नियंत्रण कक्ष में बीडीओ मानोज कुमार खुद बैठ सीसीटीवी के पुटेज को देख संगम घाट पर नियुक्त पुलिस बल एवं मजिस्टेट को दिशा निर्देश देते रहे।


संगम घाट पर रौशनी की थी व्यवस्था ।


डाक बम के जलबोझी वाले नदी के क्षेत्र से देवापुर गांव तक मेला समिति द्वारा रौशनी को लेकर एक दर्जन जेनरेटर लगाया गया था ।वही नदी में डाक बम के जलबोझी वाले क्षेत्र में भवन विभाग द्वारा बैरिकेटिंग एवम चेंज रूम बनाया गया था। जबकि पीएचडी विभाग द्वारा संगम घाट से देवापुर नियंत्रण कक्ष तक एक दर्जन चापाकल एवम एक दर्जन शौचालय बनाया गया था । वही मेला सामिति द्वारा डाक बम के लिय मुक्त भोजन के लिय लंगर खोला गया है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा खोला गया है मेडिकल कैम्प।

देवापुर संगम घाट पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा दो मेडिकल कैम्प खोला गया है जहाँ डाक बम को दवा का वितरण  मेडिकल टीम द्वारा किया जा रहा है मेडिकल टीम में प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी डॉ मोहनलाल प्रसाद के नेतृत्व में चिकित्सको द्वारा डाक बम के सेवा में लगे है। वही संगम घाट पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा दो एम्बुलेंस की तैनाती किया गया है। 

डाक बम मेला में विधि व्यवस्था को लगे रहे पदाधिकारी।

देवापुर संगम घाट पर लगे संगम घाट पर जलबोझी लो लगे डाक बम मेला में आये डाक बम के सुरक्षा एवं बिधि व्यवस्था को संगम घाट से देवापुर गांव तक डीडीसी अखिलेश कुमार सिह, पकड़ीदयाल एसडीओ श्री मेधावी , डीएसपी दिनेश कुमार पाण्डये , बीडीओ मानोज कुमार , सिओ रोहित कुमार , पीओ प्रशांत मोहन ठाकुर ,  थाना अध्यक्ष विकास तिवारी , पचपकरी ओपी प्रभारी प्रमोद कुमार , दरोगा अजित सिह , दरोगा सुरेंद्र कुमार , विरसा उरांव , शिव जलेंद्र सिह , दरोगा गंगादयाल ओझा, जलेश्वर भगत,बिरसा उराव, एस एन दास,  मेला समिति के अध्यक्ष मुखिया पति बेदानन्द झा , प्रमुख बालदेव पासवान, सरपंच परतनिधि नुरुल हक, पंसस लालबाबु सिह , रामबाबू सिह, सहित दर्जनों महिला एवं पुरूष पुलिस बल लगे रहे।


Posted by

Raushan Pratyek Media


जरूर पढ़ें

Stay Connected