Live

:- पकड़ीदयाल से चन्द्रिका सिंह की रिपोर्ट

पूर्वी चंपारण। नपं के डुमरबना वार्ड नं 10 में ट्रेक्टर पर लाऊड स्पीकर बांध कर अंतिम सोमारी को खोड़ीपाकड़ जल बोझी में भाग लेने के लिए प्रचार कर रहे चार युवक 11 हजार के तार के सम्पर्क में आने से जख्मी हो गए जिसमें 30 वर्षीय बैधनाथ महतो के बुरी तरह जलने से दर्दनाक मौत हो गई।साथ ही ट्रेक्टर के साथ साउंड बॉक्स भी जल गया जिससे जोर की आवाज हुई। आवाज सुन ग्रामीण घटनास्थल पहुँच सभी को अस्पताल पहुँचाया। डॉक्टर ने बैधनाथ महतो को मृत घोषित कर दिया जबकि 22 वर्षीय विकास का इलाज स्थानीय एक निजी अस्पताल में चल रहा है। घायल बैजू महतो एवं ट्रेक्टर चालक राकेश कुमार को इलाज के बाद छोड़ दिया गया। वार्ड पार्षद रामचन्द्र कुँअर, सन्तोष कुमार सिंह,मुन्ना सिंह, भोला महतो,सुबोध कुमार सिंह आदि ने बताया कि शुबह में अंतिम सोमारी को खोड़ीपाकड  जलबोझी के लिए प्रचार करने के दौरान दुमरबना गांव में बिजली के 11 हजार तार के स्पर्श में आने से ट्रेक्टर पर सवार चारों नवयुवक बुरी तरह जख्मी हो गए। सड़क के बीचोबीच पुराना 11 हजार का पोल एवं तार में अभी तक  बिजली सप्लाई की जाती है जबकि गांवों में नया पोल तार लग चुका है। बिजली विभाग के लापरवाही से आजतक पुराना पोल तार में बिजली सप्लाई चालू रखा गया है जिसके कारण इतनी बड़ी हादसा हुआ है।

बैधनाथ महतो के मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने नेहरू चौक पर शव को रखकर जाम कर दिया।एक घण्टा तक जाम लगा रहा।लेकिन नपं के सभी जनप्रतिनिधियों एवं पदाधिकारियों के अथक प्रयास से जाम खुला। सीओ राजेश कुमार, बीडीओ सूरज कुमार सिंह एवं ईओ सोनू कुमार राय के चार लाख मुआवजा देने के आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम खोला एवं शव को पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी जाने दिया।सभी जनप्रतिनिधियों का जाम खोलवाने में सराहनीय प्रयास किया गया।


Posted by

Raushan Pratyek Media


जरूर पढ़ें

Stay Connected