Live

:- अरवल से तबरेज़ अंसारी के रिपोर्ट

अरवल जिला के कलेर प्रखण्ड अंतर्गत, उर्दू प्राथमिक विधलाय जब्बार विगहा के शिक्षक से सुनये ,इस स्कूल में 124 बच्चे नामांकित हैं 02 साल से अबतक पौशाक राशि से लेकर छात्रवृत्ति तक नही मिला जिसके कारन छात्र से लेकर अभिभावक तक स्कूल H.M सरवरी बनो , शिक्षक रामजी राम से नाराज हैं, हलाकि अभिभावकों द्वारा पूछे जाने पर शिक्षिका सरवरी बानो हमेशा बैंक का दोष देकर निकल जाती हैं,

हलाकि जिला में ये इकलौता स्कूल नही है, जिसमे पौशाक राशि और छात्रवृत्ति छात्रों को नही दिया गया अधिकतर स्कूल का हाल यही है।

ये हरकोई जनता है के सरकारी स्कूलों में शिक्षा का हाल क्या है, फ़िरभी अपने बच्चे को लोग सरकारी स्कूलों में भेजने केलिए मजबूर हैं, क्यों कि उनके पास प्राइवेट स्कूलों का मंथली बोझ उठाने भर आय नही है।

ऐसे स्कूलों पर जिला शिक्षा पदाधिकारी को ध्यान देना चाहये , शिक्षा पर खर्च करने केलिए बजट करोडों का दिखाकर छात्रों के लाइफ से खिलवाड़ किया जा रहा है।

बहुत से ऐसे स्कूल है जहाँ पर छात्रों के मिलने वाली किताब राशि भी नही मिल पाया है, शिक्षक से पूछे जाने पर बैंक का जिमेवार ठहराकर अपना पल्ला झाड़ देते हैं, ये जांच का विषय है इस पर जिला पदाधिकारी को संज्ञान लेने की जरूरत है।

  


  




जरूर पढ़ें