वैक्सीन की दूसरी डोज जरूरी

-मिलेगी दोहरी सुरक्षा: प्रतिरक्षण पदाधिकारी

•कोरोना से लड़ाई के लिए इम्युनिटी बढ़ाएगी दूसरी डोज

•1.29 लाख डोज हुआ आवंटित, 305 सत्र स्थल पर हुआ टीकाकरण

किशोर कुमार ब्यूरो रिपोर्ट

मधुबनी-कोरोना की  संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए टीकाकरण महाअभियान 2.0 चलाया गया। कोविड टीकाकरण  के दोनों डोज के लक्ष्य हासिल करने के लिए जिले में सोमवार को विशेष अभियान चलाया गया । प्रथम डोज तथा दूसरे डोज के लाभार्थियों के लिए अलग काउंटर बनाया गया। ऐसा देखा जा रहा है कि प्रथम डोज लेने के बाद दूसरे डोज लेने वाले की संख्या में काफी कमी हो रही है। जिन लोगों का दूसरे डोज ड्यू है उन्हें केयर इंडिया के द्वारा फोन के माध्यम से फॉलोअप किया जा रहा है तथा उन्हें दूसरे डोज लेने के लिए अपील की  जा रही  है। केयर इंडिया के द्वारा प्रतिदिन 400 से 500 लोगों को फोन के माध्यम से दूसरे डोज की  टीका लेने के लिए अपील की  जा रही  है महाअभियान 2.0 के लिए जिले भर में 305 सत्र स्थलों पर एक लाख लोगों को टीकाकृत करने का लक्ष्य रखा गया। अभियान की  सफलता के लिए 1,29,050 वैक्सीन की डोज उपलब्ध कराई गई। दोनों डोज लेने के बाद लाभार्थियों ने एक सुर में कहा वैक्सीन की एक डोज से लड़ाई पूरी नहीं है। इसके लिए लोगों को स्लोगन को समझना होगा कि एक से अधूरा, दो से पूरा। कोरोना के दोनो टीके लगवाएं। दोनों टीका लगवाने से ही कोरोना की लड़ाई पूरी तरह से सुरक्षित होगी।

टीकाकरण अवश्य कराएं:

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ एसके विश्वकर्मा के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए वैक्सीन को ही सबसे प्रभावी हथियार के तौर पर देखा जा रहा है। सभी लोगों को टीकाकरण अवश्य कराना चाहिए। तमाम अध्ययनों में वैक्सीन को वायरस से सुरक्षा देने में प्रभावी पाया गया है, वैक्सीन लगवाकर आप कोरोना के गंभीर संक्रमण और इसके कारण होने वाली मौत से सुरक्षित हो सकते हैं। दूसरी लहर के दौरान वैक्सीन की उपलब्धता इतनी अधिक नहीं थी, इसी वजह से वायरस का इतना आक्रमक रूप देखने को मिला। इस बार सभी लोगों को सबक लेकर जल्द से जल्द वैक्सीनेशन जरूर करा लेनी चाहिए। तथा प्रथम डोज लेने के बाद दूसरा डोज अवश्य लें ताकि आपकी इम्युनिटी  मजबूत हो ।

दोनों डोज लेने बाद हीं पूरा होगा टीकाकरण:

‘‘कोरोना जैसी गंभीर महामारी से लोगों को बचाने के लिए विभाग के द्वारा टीकाकरण किया जा रहा है जो  काफ़ी सराहनीय है। सेकेंड डोज के लिए अलग से काउंटर बनाया गया है। इससे लोगों को लाइन में खड़ा होकर घंटों इंतजार नहीं करना पड़ रहा है। तुरंत यहां पर सेकेंड डोज का टीका दिया जा रहा है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए दोनों डोज लेना जरूरी है। इसलिए मैने अपना फर्ज निभाया है। टीकाकरण के दोनों डोज के लिए अपने आस-पास के लोगों को जागरूक करने का काम करूंगी’’।

 -आशा देवी नगवास मधुबनी

प्रथम डोज लेने के बाद दूसरा डोज लेना इसलिए जरूरी है कि हमें कोरोना वायरस से सुरक्षा दूसरा डोज लेने के बाद ही प्राप्त होती है| दूसरा डोज लेने के बाद ही इम्युनिटी बूस्ट होती है| इसलिए प्रथम डोज लेने के बाद दूसरा डोज़  अपना तथा अपना परिवार की सुरक्षा के लिए जरूर लें।

 राजीव रंजन कुमार, अधिवक्ता सिविल कोर्ट मधुबनी

कोरोना के प्रथम वेब तथा दूसरे वेब के बाद संभावित तीसरे वेब से सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा कोरोना टीकाकरण किया जा रहा है। इसलिए लोगों को टीकाकरण जरूर कराना चाहिए।प्रथम डोज लेने के बाद दूसरा डोज जरूर लें। जिससे लोगों की इम्युनिटी बढ़ती है और कोरोना वायरस से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। टीके लेने के बाद किसी तरह की परेशानी नहीं महसूस हुई। मैंने अपनी जिम्मेदारी निभाई कोरोना से लड़ने के लिए मैं सभी लोगों से अपील करता हूं कि दोनों डोज का टीका जरूर लगावे

आशीष कुमार, सॉफ्टवेयर इंजीनियर

जिले में अब तक 15.61 लाख लोगों का हुआ टीकाकरण:

जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी सुनील कुमार ने बताया जिले में अब तक 15 लाख 61 हजार 843 लोगों का टीकाकरण किया गया है जिसमें 18 से 44 उम्र के 8,08,320 लोगों को 45 से 60 वर्ष के उम्र के 3,76,010 लोगों को, 60 वर्ष से ऊपर के 3,77,513 लोगों का टीकाकरण किया गया। जिसमें 7,46,566 पुरुष, 8,14,926 महिला को टीकाकृत किया गया है। टीका लेने वाले में 13,43, 744 लोगों को कोविशील्ड, 2,18,099 कोवैक्सीन का डोज दिया जा चुका है।


 


Advertisements

Posted by : Raushan Pratyek Media

Follow On :


जरूर पढ़ें

Grievance Redressal Officer (Any Complain Solution) Name: Raushan Kumar   Mobile : 8092803230   7488695961   Email : [email protected]