पटना: उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि 25 जून 1975 को लागू किया गया आपातकाल लोकतंत्र का वो बदनुमा दाग है। जिसे कभी मिटाया नहीं जा सकता। आम नागरिकों के सभी मौलिक अधिकारों को निरस्त कर दिया गया। राजनीतिक विरोधियों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया। प्रेस पर सेंसरशिप लगाई गई। कांग्रेस ने लोकतंत्र को वह घाव दिया हैए जिसकी टीस सदियों तक महसूस होगी। वे शुक्रवार को नवादा जिले के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ वर्चुअल संवाद कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि 25 जून की तारीख जब 1975 में देश में आपातकाल लगाया गया थाए पूरे देश के बीजेपी कार्यकर्ताओं ने इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाया। स्वण् इंदिरा गांधी ने राजनीतिक विरोधियों पर अत्याचार की कोई सीमा नहीं रखी। इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने इंदिरा गांधी के चुनाव को रद कर दिया था। इसका आदर करते हुए इंदिरा गांधी को त्यागपत्र देना चाहिए थाए लेकिन सत्ता में बने रहने के लिए उन्होंने कैबिनेट की स्वीकृति के बिना 25 जून 1975 की आधी रात को आपातकाल लगा दिया। करीब 1 लाख 40 हजार लोग जेल में डाल दिए गए थे। ये सब सिर्फ इसलिए हुआ क्योंकि सिर्फ एक व्यक्ति को सत्ता में बने रहना था।


 


जरूर पढ़ें

Grievance Redressal Officer (Any Complain Solution) Name: Raushan Kumar   Mobile : 8092803230   7488695961   Email : pratyak75@gmail.com