पूर्णिया। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर भोला पासवान शास्त्री कृषि महाविद्यालय के परिसर में कोविड-19 को ध्यान मेें रखते हुए सामाजिक दूरी का पालन एवं स्वच्छता के साथ योग साधना कल निरोग रहने का संकल्प लिया। इस मौके पर योग प्रशिक्षण शिविर एवं ऑनलाईन स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय सेवा योजना के प्रभारी पदाधिकारी डा0 पंकज कुमार यादव की देख-रेख में प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, पूर्णियाँ सिटी के प्रभाारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. आर. पी. सिंह (योगाचार्य) मुख्या अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। कृषि कॉलेज के प्राचार्य डा0 पारस नाथ ने इसकी अध्यक्षता किया। योग प्रशिक्षण  शिविर के अवसर पर अपने उद्घाटन भाषण में प्राचार्य ने ऑनलाईन छात्र छात्राओं को योग के महत्व के बारे में बताते हुए कहा कि वर्ष 2015 में संयुक्त राष्ट्र संघ ने 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के रुप में मनाने का निर्णय लिया जो भारत के लिए गर्व की बात है क्योंकि योग हमारी प्राचीन परम्परा का अमूल्य उपहार है। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस वर्ष 2021 का थीम ‘योगा फाॅर वेलनेस‘ है। योग का आरम्भ भारत से माना जाता है। योग शब्द संस्कृत से लिया गया है, जिसका अर्थ है मिलना अथवा एक होना। जो शरीर एवं चेतना के मिलन का द्योतक है। इसके लिए हम सभी को जागरुक होने की आवश्यकता है। बताया की हमें इस भागम-भाग जीवन में अपने शरीर एवं स्वास्थ्य के प्रति कुछ समय देने की जरूरत है। जंक फूड के कारण देश  के नागरिकों में विभिन्न प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जिसमें प्रमुख रूप से हृदय रोग, किडनी की बीमारी, मधुमेह की बीमारी तथा अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से निजात मिलता है। उन्होने कहा कि जब से मानव की उत्पत्ति हुउ है उस समय से खुद को स्वस्थ रखने की जिम्मेदारी मानव पर रही है। बदलते समय के साथ-साथ स्वास्थ्य की चुनौतियां भी बदलती रही हैं। वर्तमान में किसी भी राष्ट्र की सबसे बड़ी चुनौती राष्ट्र की सम्पूर्ण जनसंख्या का स्वस्थ होना है। कोविड-19 महामारी के दौरान योग ने शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को नियंत्रित करने एवं प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने का कार्य किया।


चिकित्सा पदाधिकारी डा. आर. पी. सिंह (योगाचार्य) ने बताया कि योग के द्वारा हमारे शरीर, मन एवं मस्तिष्क विचार एवं कार्य एक हो जाते हैं। योग भारत की प्राचीन शारीरिक, मानसिक एवं अध्यात्मिक विधा है जो विभिन्न प्रकार के रोगों का निदान कर हम सभी के स्वास्थ्य को बनाने के लिए बहुत ही उपयोगी हैै। उन्होंने यह भी बताया कि आज के दिन को भारत सरकार ने कोविड-19 से बचाव हेतु मेगा टीकाकरण अभियान चलाया है। जिसके अन्तर्गत महाविद्यालय के सभी वैज्ञानिकों एवं कर्मचारियों का प्रथम डोज पूरा किया गया। राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के पदाधिकारी डा0 पंकज कुमार यादव ने योग की महत्ता का विश्लेषण कर इसे दैनिक जीवन में अपनाने पर जोर दिया। महाविद्यालय के शिक्षकों एवं उपस्थित कर्मचारियों ने योग का पूर्ण अभ्यास के दौरान भस्त्रिका, कपालभाती, अनुलोम विलोम, भ्रामरी, प्राणयाम, वृक्षासन, हलासन, सर्वांगासन, भुजंगासन, गोमुखासन, पवनमुक्तासन, शीर्षासन सहित अन्य आसनों का प्रस्तुतिकरण सहायक प्राध्यापक-सह-कनीय वैज्ञानिक (उद्यान-फल) सह राष्ट्रीय कैडेट कोर के ए.एन.ओ. डा0 अनिल कुमार एवं पतंजली योगपीठ हरिद्वार के योगाचार्य सुरेन्द्र जी के द्वारा आयोजित योग शिविर में किया गया।

इस अवसर पर महाविद्यालय के वैज्ञानिकों में डा. जनार्दन प्रसाद, डा. अनिल कुमार, डा. पंकज कुमार यादव, एस. पी. सिन्हा एवं कर्मचारियों में सहायक नियंत्रक मनोज कुमार मिश्रा, श्रीप्रसाद राम, गजेन्द्र मण्डल, अमरजीत सिंह, चालक सुरेन्द्र कुंवर, नीतू, तकनीकी सहायक मनीष कुमार, नवीन लकड़ा, श्रवण कुमार यादव, चन्द्रमणि चैधरी, अनुपम कुमार, ब्रजेश कुमार, अनिल कुमार आदि के साथ-साथ शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, पूर्णियाँ सिटी के, प्रभाारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. आर. पी. सिंह, पतंजली योगपीठ हरिद्वार के योगाचार्य सुरेन्द्र ने सक्रिय रूप से कोविड-19 को ध्यान मेें रखते हुए सामाजिक दूरी का पालन एवं स्वच्छता के साथ योग प्रशिक्षण  शिविर में बढ़ चढ़कर योगाभ्यास किया। वर्चुअल मोड में छात्राओं में क्रमश स्नेहा सोनल, स्वीटी, अदिती, कौशम्बी सिंह, कोमल भारती, पारूल, मुस्कान, अकांक्षा प्रिया, नेहा भारती, रिया कुमारी, छात्रों में प्रतीक, अभिषेक, अभिजीत, आदित्य, सुभाष, खुर्शीद, अनुराग, रौशन कुमार, राघवेन्द्र प्रसाद, सन्नी कुमार, रितिक कुमार मौर्य, रितू राज, मो॰ नौमान आलम, शुभम कुमार, मो॰ इंतखाब फिरोज, गौरव कुमार, नीतिश कुमार, विश्वजीत आनंद आदि ने वेवेक्स मीट वेबसाईट पर रजिस्ट्रेशन कर ऑनलाईन स्लोगन प्रतियोगिता में भाग लिया। इस कार्यक्रम का ऑनलाईन संचालन तथा धन्यवाद ज्ञापन राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के पदाधिकारी डा0 पंकज कुमार यादव द्वारा किया गया।


 


Advertisements

Posted by : Raushan Pratyek Media

Follow On :


जरूर पढ़ें

Grievance Redressal Officer (Any Complain Solution) Name: Raushan Kumar   Mobile : 8092803230   7488695961   Email : [email protected]