- डॉ अंबेडकर को आरजेएस राष्ट्रीय वेबीनार में दी गई श्रद्धांजलि

कुमार गौरव की रिपोर्ट

नई दिल्ली : राष्ट्र प्रथम भारत एक परिवार को ले रामजानकी संस्थान आरजेएस ने  भारतीय नववर्ष 13 अप्रैल के अवसर पर डॉ अंबेडकर के साथ साथ जलियांवाला बाग नरसंहार में मृत नागरिकों को श्रद्धांजलि देकर कोविड 19 में कैसे हो सतत् विकास ? पर आरजेएस राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया। आरजेएस राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना ने बताया कि 151 वीं आरजेएस सकारात्मक वर्चुअल बैठक के सह आयोजक टीजेएपीएस केबीएसके पश्चिम बंगाल के सचिव सोमेन कोले थे। आरजेएस ऑब्जर्वर पूर्व निदेशक एमसीडी दीप चंद्र माथुर ने अतिथियों और बैठकों के सह आयोजकों का स्वागत करते हुए कहा कि आरजेएस फैमिली से जुड़े सभी अतिथियों और प्रतिभागियों का बड़ा सहयोग रहता है। आरजेएस सकारात्मक भारत आंदोलन  समय की मांग है। उन्होंने कहा कि आजादी की 75 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में श्रृंखलाबद्ध सकारात्मक बैठकें जारी हैं। 

मानसिक स्वास्थ्य के विकास के गुर बताए : 

वर्चुअल बैठक के मुख्य अतिथि आध्यात्मिक गुरु सुरजीत सिंह दीदेवार ने कहा कि सरकार के निर्देशों का पालन और खानपान में संयम  व्यायाम के साथ साथ शरीर, श्वास और मन को समन्वित रखकर कोविड-19 से बचाव हो सकता है। उन्होंने अभ्यास सत्र में मानसिक स्वास्थ्य के विकास के गुर बताए। भारतीय संस्कृति का विक्रम संवत 2078 के शुभ अवसर पर नव संवत्सर, वैशाखी, नवरात्रि, चेटीचंड, गुड़ी पड़वा, युगादि और बिहू जैसी भारतीय नववर्ष की सांस्कृतिक परंपराओं को सुदृढ़ करने के लिए अतिथि वक्ता मीडिया विशेषज्ञ पार्थ सारथि थपलियाल ने सभी पक्षों को सामने रखा। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कंज्यूमर ऑनलाइन फाउंडेशन के संस्थापक प्रो बिजाॅन मिश्रा ने पत्रकार धनंजय कुमार और डॉ नरेंद्र टटे व आरजेएस  फैमिली का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि कोविड-19 के समय अपने हुनर पर विश्वास रखें और समय, काल और परिस्थिति के अनुसार उसका नूतन प्रयोग करें।

वेबिनार में किए गए सवाल जवाब : 

135 करोड़ उपभोक्ताओं को चाहिए कि बाजार में गुणवत्ता की निगरानी रखें और शंका होने पर सवाल करें और लोगों को जागरुक करें। उन्होंने कहा कि भारतीय नववर्ष पर बिजाॅन मिश्रा यूट्यूब चैनल पर पहली बार किसी वेबिनार का प्रसारण किया गया। 

इस अवसर पर अतिथियों ने सभी प्रतिभागियों की शंकाओं का निवारण किया। सकारात्मक बैठक के सह आयोजक ओमप्रकाश झुनझुनवाला ने कोरोना काल में प्रशिक्षित चिकित्सकों की आवश्यकता बताई वहीं डॉ पुष्कर बाला ने विद्यार्थियों को रचनात्मक कार्यों से जुड़कर सकारात्मक प्रयास करने पर बल दिया। 

बैठक में ये रहे शामिल : 

बैठक में सह आयोजक ओमप्रकाश झुनझुनवाला, कौशल्या देवी, डॉ पुष्कर बाला, डॉ नरेंद्र टेटे, आशीष पांडेय, धनंजय कुमार, हरीश कुमार शर्मा आदि के अलावे आरजेएस फैमिली से प्रतिभागी भाई बहन विजय लक्ष्मी, डॉ आरके गुप्ता, विकास कुमार झा, रितु कपिल टेकरा, डॉ शकुंतला ठाकुर, आकांक्षा, सोनी कुमारी, प्रवेंद्र सिसोदिया, अल्ताफ हुसैन, मयंक राज और राकेश पाठक आदि शामिल हुए। बैठक के अंत में आरजेएस ऑब्जर्वर दीप चंद्र माथुर ने बैठक सफल करने के लिए सभी लोगों का धन्यवाद किया।


 


Advertisements

Posted by : Raushan Pratyek Media

Follow On :


जरूर पढ़ें

Grievance Redressal Officer (Any Complain Solution) Name: Raushan Kumar   Mobile : 8092803230   7488695961   Email : [email protected]