Live

दिनेश गुप्ता/पवन सिंह का रिपोर्ट 

नवादा :- सिरदला थाना क्षेत्र के कुशाहान टोला चक पर चकिया आहर में एक शव को तैरते हुए ग्रामीणों ने देखा। सूचना के बाद थानाध्यक्ष आशीष कुमार मिश्रा ने घटना स्थल पहुंचकर शव को बरामद किया। परिजनों जिद्द पर 45 वर्षीय मृतक गोरेलाल सिंह को सिरदला प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां चिकित्सक डॉ अजय कुमार चौधरी ने देर रात में ही हत्या किए जाने की पुष्टि कर पुलिस को सौंप दिया है। सूत्रों के अनुसार स्व अरुण सिंह के पुत्र गोरेलाल सिंह काफी शालीन विचार के ब्यक्ती थे। गांव से लेकर बाजार तक किसी ज्यादा न बोलना न ही बेवजह किसी पास जाने की आदत नहीं था। कुशाहन टोला चक पर ही महुआ शराब सेवन को लेकर ज्यादा समय देते थे। शुक्रवार की शाम से ही घर नहीं लौटे थे। पूर्व के भांति परिजनों ने समझे कि कहीं रह गया होगा। जब चक गांव निवासी ने शव को आहर में तैरते देख चीखने चिल्लाने लगा तब कुशा हन गांव परिजन हामे सिंह, रौशन सिंह, चप्पू सिंह समेत सैकड़ों लोग पहुंचकर देखा और उसे बाहर निकाला तो गोरेलाल की शव को देखकर ग्रामीणों के आंखे नम हो गई। घटना के कारणों का पता नहीं चला है। थानाध्यक्ष ने बताया कि शरीर पर जला का निशान, आंख से निकलते खून बी जख्म से प्रतीत होता है कि किसी अज्ञात अपराधियों ने उनकी हत्या कर शव को पानी से भरे आहर में फेंक दिया है। बताते चले कि कुशाहन गांव से चक पर जाने के लिए दो रास्ता है। जिसमें आहर के भीड़ से गुजरने वाली रास्ता शॉट रास्ता है। जो अक्सर इसी रास्ते से चक पर आया करते थे। खेती बाड़ी के लिए मजदूर आदि इसी गांव से लेकर जाते थे। इनके जेश्ट भाई अमित सिंह बंधी पंचायत से पूर्व पंचायती समिति रह चुके हैं। घटना के बाद गांव में मातमी सन्नाटा देखा जा रहा है। परिजनों ने हत्या में शामिल हत्यारों के विरूद्ध कड़ी कार्य वाई की मांग किया है ।।

  


  




जरूर पढ़ें