Live

छपरा-भारत के शिक्षा व सुरक्षा के इतिहास में  29जुलाई 2020 की तिथि स्वर्णिमदिन  के रूप में जाना जायेगा करीब दो दशक के लंबे इंतजार के बाद भारतीय वायु सेना को बल प्रदान करने वाली देश के सुरक्षा में नया आयाम जोड़ने वाले  विश्व की अत्याधुनिक राफेल विमान का भारत में शुभागमन होना 

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्रमोदी जी के त्वरित निर्णय और दूरदर्शिता का न सिर्फ परिणाम है जो राफेल का इतना जल्दी भारत आना संभव हुआ इससे स्पष्ट होता है कि मोदी सरकार के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सर्वोपरि है। यह गौरव का क्षण है।

वायुसेना को बधाई। वहीँ किसी भी राष्ट्र को वैश्विक महाशक्ति के रूप में स्थापित करने में शिक्षा की अहम भूमिका होती है। तीन दशक बाद देश में नयी 

राष्ट्रीय शिक्षानीति2020 लागू करने हेतु केंद्रीय मंत्रिमंडल से मंज़ूरी के लिए आदरणीय प्रधानमंत्री 

श्री नरेंद्र मोदी जी का हृदयतल से आभार! केंद्रीय कैबिनेट के इस निर्णय से मार्श मैकाले के मानस पुत्रों के चंगुल से शिक्षा के मंदिर को आजाद करने की प्रक्रिया आरंभ हो गया है। मुझे विश्वास है कि नई शिक्षा नीति न्यूइंडिया का निर्माण सुनिश्चित करेगा।बल्कि इससे देश में नई शिक्षा क्रांति का आगाज होगा।एवं छात्रों को विश्वस्तरीय शैक्षणिक प्रणाली उपलब्ध कराने का लक्ष्य हासिल करने एवं आत्म निर्भर भारत को गढ़ने में सहायक सिद्ध होगा। दशकों से छात्रों को भारत और भारतीयता के भाव से ओतप्रोत शिक्षा प्रदान करने हेतु भारत केंद्रित शिक्षानीति लागू करने की मांग व सँघर्ष करने वाले छात्र संगठन,ABVP सहित अनेकों शैक्षिक संगठनों,शिक्षाविदों की मांग पुरे होने पर हार्दिक बधाई एवं राष्ट्रीय शिक्षा नीति को तैयार करने वाले सभी सम्मानित सदस्यों को हार्दिक धन्यवाद॥

  


  




जरूर पढ़ें