Live

- ग्रामीण क्षेत्रों में भी लगा रहेगा सम्पूर्ण लॉक डाउन

- जरूरी दुकानें, बैंक, पेट्रोल पंप आदि खुले रहेंगे

- रामनवमी, दुर्गा पूजा व छठ पूजा पर नहीं रहेगी भीड़

पूर्णिया के जिलाधिकारी राहुल कुमार ने समाहरणालय सभागार में सभी कोषांगों की बैठक की. इस दौरान उन्होंने कोरोना वायरस को लेकर जिला वासियों को से अपील करते हुए कहा कि शहर में लॉक डाउन का पूरी तरह से पालन किया जाएगा. कोई भी लोग अपने घरों से न निकले. आपातकाल की स्थिति में ही कुछ देर के लिए घर से निकलने की छूट होगी. उन्होंने कहा कि लॉक डाउन केवल शहर ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी पूरी तरह से लागू रहेगा. 

इमरजेंसी सेवाएं रहेगी उपलब्ध : 

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि लॉक डाउन की स्तिथि में केवल इमरजेंसी सेवा को छोड़कर सभी तरह की बंदी लागू रहेगी. लॉक डाउन के दौरान सभी किराना दुकानें, मीट-मछली की दुकानें, पशुचारे की दुकानें बैंक, एटीएम, पेट्रोल पंप, एलपीजी गैस इत्यादि खुले रहेंगे. पर लोगों से कहीं भी ज्यादा भीड़ नहीं लगाने की अपील जिलाधिकारी ने की.

सभी प्रखंड में बनाया गया है आइसोलेशन वार्ड : 

बैठक में सिविल सर्जन डॉ मधुसूदन प्रसाद ने कहा कि कोरोना के लिए जिले के सभी प्रखंडों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. वहीं सदर अस्पताल में 50 बेड का आइसोलेशन वार्ड तैयार किया गया है. कोरोना संबंधी किसी भी प्रकार की जानकारी होने पर लोगों को जिला द्वारा हेल्प लाइन नम्बर जारी किया गया है जिस पर लोग फोन कर जानकारी दे सकते हैं.

कालाबाजारी रोकने के लिए चलाये जा रहे छापेमारी :

बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने कहा कि बंदी के दौरान कालाबाजारी व जमाखोरी रोकने के लिए प्रतिदिन जिले के कई अधिकारियों की टीम बनाकर छापेमारी भी की जा रही है. इसके अलावा सभी चौक चौराहों पर लॉक डाउन स्थिति बनाये रखने के लिए पुलिस बल तैनात किया गया है. उन्होंने कहा कि रामनवमी, छठ पूजा व दुर्गा पूजा पर किसी तरह की जुलूस नहीं निकली जाएगी. इस दौरान भीड़ न लगने व जितना हो सके अपने घरों में रहए का निर्देश दिया गया. इसके अलावा कोई भी सार्वजनिक या निजी गाड़ियों के चलने पर रोक लगा दी गई है. अगर कोई इसका उलंघन करते हुए पाया गया तो उसपर मुकदमा दर्ज किया जाएगा.

मीडिया कर्मियों को पहचान पत्र लेकर निकलने का निर्देश :

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा सभी प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों को अपनी पहचान पत्र लेकर क्षेत्र में निकलने का निर्देश दिया गया. आवश्यक न होने पर उन्हें भी बाहर न निकलने कहा गया है व भीड़-भाड़ वाले जगहों पर न जाने की भी अपील की गई।।


Posted by


जरूर पढ़ें