Live

गोपालगंज : जिले के मांझागढ़ पोल्ट्री फार्म  में मुर्गे प्रतिदिन एक एक फार्म में तीस से  पैतीस मुर्गे मर रहे है भैसही और ब्लूहि में पोल्ट्री फार्म चलाने वालो के  द्वारा मरे मुर्गो के ब्लूहि गण्डक नदी  में फेंक दिया जा रहा है ।जिससे मुर्गो के पानी में  सड़ने से निकल रहे बदबू से आसपास के ग्रामीण परेशान है   ग्रमीणों के कहना है ।इसकी जांच स्थानीय प्रशासन के द्वारा करके नदी में मरे मुर्गो को फेकने वाले  के विरुद्ध करवाई की जानी चाहिए  नही तो लोग इस बदबू से बीमार भी हो सकते है ।एक तरफ लोग कोरोना से बचाव हेतु  चारो तरफ साफ सफाई करने में व्यस्त है  तो दूसरी तरफ नदी में सड़े मुर्गे की बदबू  से लोगों को बीमार होने की चिंता सताने लगी है ।लोगो का मानना है खुले में मांस   मछली  के बिक्री पर  प्रतिबन्ध लगाने के बाद मुर्गा की सप्लाई कम हो गयी तथा फार्म की सफाई  नही होने से मुर्गे बीमार होकर मर जा रहे है ।जिसको निधरक नदी में फेंका जा रहा है ।।


Posted by


जरूर पढ़ें