Live

पटना : इस समय पूरा देश विश्वस्तरीय महामारी कोरोना वायरस से जूझ  रहा है ,इस संदर्भ में पी.एम. मोदी के आवाहन पर जिस प्रकार से जनता ने ताली थाली बजाकर देश में अखंडता का परिचय दिया है व सराहनीय रहा है। अब बारी है राज्य स्तरीय कार्यवाही की ।राज्य स्तर पर किस तरह से कोरोना वायरस से लड़ने के लिए अभियान चलाए जा रहे हैं, इस विषय को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बहुत बड़ा फैसला लिया है। देश के 72 राज्यों में सम्मिलित बिहार भी लॉक डाउन की परिधि में आ चुका है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अनुसार बिहार को कल (23.03.20) से 31 मार्च तक लॉक डाउन किया जा रहा है। इस संदर्भ में उन्होंने कुछ विशेष सुविधाओं को सूचीबद्ध किया  है , जो कि बंद के दौरान स्वतंत्र रहेंगे। इनमें साग- सब्जी की दुकान, डेयरी , दूध के बूथ, दूरसंचार सेवाएं ,चिकित्सीय सेवाएं,किराना दुकान, एंबुलेंस एवं कुछ अन्य आवश्यक सेवाओं के साथ-साथ इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया को सूचीबद्ध किया है। इन सब के अलावा सभी निजी और सार्वजनिक संस्थाएं बंद कर दी गई है । अपने जीवन को कोरोना वायरस के खतरे से बचाने के लिए हमें सरकार का और सरकार के फैसलों का दिल से सम्मान करते हुए इस अभियान में उनका साथ देना चाहिए , इसके साथ ही लोगो से यह अपील की जाती है कि आवश्यक हो तभी घर से निकले, अनावश्यक घर से निकलना अपने जिंदगी के साथ खिलवाड़ करने के बराबर होगा । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार वासियों से अपील की है कि उन्हें किसी भी सुविधाओं से वंचित नहीं किया जाएगा । अतः घर में रहकर और सार्वजनिक दूरी रखकर हम इस महामारी (कोरोना वायरस) से सुरक्षित रह सकते हैं ,साथ ही इसके संक्रमण की दर को समाप्त कर सकते हैं। यह हमारी छोटी किंतु जनता के सहयोग से एक बहुत बड़ी पहल साबित होगी।।

राजेश कुमार की रिपोर्ट पटना।।


Posted by


जरूर पढ़ें