Live

राजू सिंह कि रिपोर्ट दरभंगा से ।

 दरभंगा : जिला उपाध्यक्ष सह कार्यकारी अध्यक्ष रामनरेश महथा की अध्यक्षता एवं जिला सचिव श्रवण नारायण चौधरी के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन हड़ताल के 26 में दिन और प्रखंडवार केवटी प्रखंड के भूख हड़ताल में शामिल शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि माननीय प्रधानमंत्री द्वारा "जनता कर्फ्यू" घोषित किया है जिसका माध्यमिक शिक्षक संघ सम्मान करता है और विपदा  की इस घड़ी में सरकार के साथ है और लगातार जन जागरूकता भी फैला रहा है ,जबकि राज्य सरकार का शिक्षकों के साथ लगातार दुर्व्यवहार जारी है।जिला सचिव ने सभी शिक्षकों से अपील किया कि दिनांक 22/03/ 2020 को अपने-अपने घरों में बने रहें। 23 मार्च से कोरोना से बचाव हेतु जन जागरण अभियान चलेगा  ।                                प्रखंड सचिव ,नसीम अहमद अध्यक्ष, संतोष चंद्र प्रभाकर ,डॉ सुषमा कुमारी, विश्वंभर झा , उषा कुमारी ,बृजबाला मुकेश पासवान चौधरी ने कहा तथा डॉ. नमीश कुमार चौधरी डॉ. कुमार मदन मोहन जी ने कहा कि आज नियोजित शिक्षकों को लिपिक और चपरासी से भी कम वेतन दिया जा रहा है जबकि माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने अपने निर्णय में राज्य सरकार को कहा है शिक्षक सम्मानजनक वेतन पाने के हकदार हैं । सम्मानजनक व  आकर्षक वेतनमान के बिना गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का सपना साकार नहीं हो सकता है ।                      जिला कार्यकारिणी संयुक्त सचिव श्याम किशोर झा ,मनीष झा मूल्यांकन परिषद अध्यक्ष अभय कुमार सिंह सचिव ,डॉ. सतेन्द्र कुमार सिंह ,विनोद गुप्ता ,प्रकाश झा , डॉ. रौशन कुमार सिंह ,अमीर हुसैन, बेनीपुर अनुमंडल अध्यक्ष संजय झा ,सचिव, श्री मोहन चौधरी ने कहा कि खुद सरकार उच्च स्तरीय समिति का गठन कर 3 महीने के अंदर सेवा देने का लिखित संकल्प जारी किया था इस विफलता को छिपाने के लिए सरकार उल्टे शिक्षकों पर दमन बदनामी और सर्वे जैसी अनावश्यक कार्य कर रही है।                 सचिव।।


Posted by


जरूर पढ़ें