Live

पूर्णियां से मलय झा की रिपोर्ट

पूर्णियां : बहुजन क्रांति मोर्चा के संयोजक सह बहुजन मुक्ति पार्टी जिला अध्यक्ष अजय कुमार पासवान उर्फ अजय भारती के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल नगर आयुक्त एवं जिलाधिकारी से मिलकर प्रधान सचिव (नगर विकास एवं आवास विभाग, पटना, बिहार) के नाम एक ज्ञापन सौंपा। सौपे गए ज्ञापन में प्रधान सचिव (नगर विकास एवं आवास विभाग) के द्वारा जिला पदाधिकारी को निर्गत किया गया पत्र जिसका पत्रांक 2292 का जिक्र करते हुए कहा गया है कि अंचल अधिकारी पूर्णिया पूर्व के द्वारा भारी पुलिस बल के साथ बीते दिनों लंका टोला सहित अन्य कई जगहों पर रह रहे भूमिहीन परिवारों के घरों को उजाड़ कर बेघर कर दिया गया। विरोध करने पर गरीब परिवारों के साथ गाली-गलौज और मारपीट भी की गई जबकि प्रधान सचिव के द्वारा जिलाधिकारी को 16.08.2019 को ही निर्गत किए गए पत्र के अनुसार नगर निगम क्षेत्र में मलिन बस्ती एवं सरकारी भूमि पर अतिक्रमण आवासीय लोगों का अगर उसी स्थान पर पुनर्विकास संभव हो तो अवस्थित परिवार जिस भूमि पर आवासीय है उस भूमि के स्वामित्व वाले विभाग से अनापत्ति प्राप्त कर उक्त भूमि पर बहुमंजिले आवास बनाकर लाभुकों को देने की बात कही गई है। प्रधान सचिव के द्वारा निर्गत किए गए पत्र में कहीं भी अतिक्रमिक परिवारों के घरों को उजाड़ने की जिक्र नहीं किया गया है। शिष्टमंडल का नेतृत्व कर रहे बहुजन क्रांति मोर्चा के संयोजक अजय भारती ने बताया कि प्रधान सचिव के द्वारा जिलाधिकारी को निर्गत किए गए पत्र को यदि अमल में लाया जाता तो लंका टोला सहित अन्य जगहों पर बसे भूमिहीन परिवार के घरों को किसी भी सूरत में उजाड़ा नहीं जा सकता था। उन्होंने कहा कि प्रधान सचिव के द्वारा निर्गत किए गए पत्र का जवाब ना तो नगर आयुक्त और ना ही जिलाधिकारी महोदय से मिला और जिस तरह की दमनात्मक कार्रवाई जिला प्रशासन के द्वारा की गई है और निरंतर अन्य जगहों पर रह रहे लोगों को जमीन खाली करने की नोटिस भेजा जा रहा है इससे स्पष्ट है कि किफायती आवास और मलिन बस्ती (स्लम) पुनर्वास एवं पुनर्विकास आवास नीति 2017 का घोर उल्लंघन किया जा रहा है। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि समय रहते जिला प्रशासन अपनी गलतियां सुधारे नहीं तो 31 मार्च के बाद सारे मजलूम लोगों को इकट्ठा कर एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा। शिष्टमंडल के साथ मोहम्मद शकील, मोहम्मद इम्तियाज, दिनेश दास, शंकर तमोली, वीरेंद्र महतो, श्रवन पासवान, सूरज कुमार, नीलम देवी, जरीना खातून, नीलू देवी, लक्ष्मी देवी आदि शामिल थे।।


Posted by


जरूर पढ़ें