Live

राजू सिंह कि रिपोर्ट दरभंगा से ।

 दरभंगा : बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष सह कार्यकारी अध्यक्ष रामनरेश मेहता की अध्यक्षता एवं जिला सचिव श्रवण नारायण चौधरी के नेतृत्व में अनिश्चितकालीन हड़ताल के 24 में दिन और भूख हड़ताल के चौथे दिन हायाघाट- हनुमान नगर के शिक्षकों का भूख हड़ताल जारी रहा। जिला सचिव श्रवण नारायण चौधरी ने कहा की सरकार मनमाने वअवैज्ञनीक तरीके से उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करवा रही है। मूल्यांकन कार्य में लगे हुए शिक्षकों ,परीक्षकों को जवाब धमकी और आतंकित कर 1 दिन में एक परीक्षक द्वारा दो -तीन सौ से भी अधिक उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करवाया जा रहा है। यह छात्र छात्राओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ है ।यह एक अपराधिक कृत्य है उन पर तुरंत प्राथमिकी दर्ज कर निलंबन की कार्यवाई की जाए अन्यथा बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ अभिभावकों के साथ एकजुट होकर छात्र-छात्राओं के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ संघर्ष करेगा ,क्योंकि निदेशक माध्यमिक शिक्षा ने अपने पत्रांक 138 दिनांक 18- 3-2020 मैं स्वीकार किया है की मूल्यांकन केंद्रों पर परीक्षकों की उपस्थिति कम है। इससे यह प्रमाणित होता है की गैर शिक्षकों से जबरन मूल्यांकन करवाया जा रहा है ,जिन्हें विषय वस्तु का ज्ञान नहीं है। जिला कार्यकारिणी के संयुक्त सचिव श्याम किशोर झा, मनीष कुमार झा, मूल्यांकन परिषद अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ,सचिव डॉक्टर सत्येंद्र कुमार सिंह ,कोषाध्यक्ष इंद्र देव राय, आमोद कुमार ने कहा कि बिहार विधानसभा के अध्यक्ष सहित 100 से अधिक विधायकों जनप्रतिनिधियों ने माननीय मुख्यमंत्री से शीघ्र वार्ता का अनुरोध किया है ।राज्य संयुक्त सचिव डॉ सुरेश प्रसाद राय, राज्य छात्र कल्याण परिषद सचिव डॉक्टर अनिल कुमार झा ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा तथा राज्य सरकार द्वारा घोषित महामारी को देखते हुए आम नागरिकों छात्र-छात्राओं के व्यापक हित में सौहार्दपूर्ण बातचीत कायम कर जायज मांगों को स्वीकार करें। हर तालियों को सदर अनुमंडल अध्यक्ष संजय कुमार झा ,सचिव श्री मोहन चौधरी, उदय चंद्र मिश्र ,दिव्या चौहान, आलोक रंजन, रामप्रीत महतो, रामप्रवेश ठाकुर ,अरुण कुमार, पंकज राय ,सुरैया आदि ने संबोधित किया।।


Posted by


जरूर पढ़ें