Live

बरबीघा। प्रखंड कार्यालय बरबीघा से  बाल विवाह व दहेज प्रथा के खिलाफ जागरूकता रथ को रवाना किया गया बरबीघा महिला विकास निगम एवं समाज कल्याण विभाग के तहत चयनित संस्था मंथन कला परिषद, खगौल,पटना के कलाकारों द्वारा बाल विवाह एवं दहेज उन्मूलन पर आधारित नुक्कड़ नाटक "चंदा पुकारे" का मंचन इस जिले के 18 पंचायतों में किया जायेगा। प्रखंड कार्यालय से प्रखंड विकास पदाधिकारी कमला कुमारी  ने हरी झंडी दिखाकर दल को रवाना किया। बेटी के मान बढाव ,सकल जहान में ..बेटिये से बेटा होला जग -संसार में ...... गीत की प्रभावशाली प्रस्तुति नाटक को रोचक तरीक़े से दर्शकों को आकर्षित करता है। इसके अलावा बरबीघा के सर्वा पंचायत आंगनबाड़ी केंद्र संख्या-46 के पहला पास दूसरी प्रस्तुति जमालपुर और तीसरी प्रस्तुति मिर्जापुर गांव आंगनबाड़ी केंद्र पर किया गया।बिहार संगीत नाटक अकादमी के पूर्व उपाध्यक्ष ,वरिष्ठ रंगकर्मी प्रमोद कुमार त्रिपाठी के निर्देशन में  नाटक "चंदा पुकारे"  के माध्यम से बाल विवाह से होने वाली परेशानियों का जिक्र किया जा रहा है, साथ ही इस बात की जानकारी भी दी जा रही है कि कम उम्र में शादी करने से  महिलाओं  के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर भी पड़ता है और उनके बच्चे भी कुपोषण के शिकार होते हैं। नाटक के माध्यम से बच्चियों को शिक्षा के प्रति जागरूक  और दहेज न लेने,न देने का संकल्प भी दिलाया गया। साथ ही सरकार द्वारा महिलाओं के लिए चलाए जा रहे कई योजनाओं तथा जल,जीवन और हरियाली के महत्व की भी जानकारी दी गई।मौके पर बताया गया कि यह कार्यक्रम इस जिले के 54  स्थानों पर किया जायेगा । एक पंचायत में रोज तीन प्रदर्शन किये जायेंगे।नाटक के कलाकारों में राजेश कुमार शर्मा ,अमन कुमार, दीनानाथ गोस्वामी, धर्मेन्द्र कुमार, सुन्दर मोची,काजल कुमारी,प्रीती कुमारी, बिट्टू कुमार, मोहम्मद चाँद  ने अपने अभिनय,तो श्यामाकांत साह और रंजीत दास ने गीत - संगीत से सबका मन मोह लिया।।


Posted by


जरूर पढ़ें