Live

·        होली में बाहर घर आने वाले बच्चों को पिलाई पोलियो की खुराक

·        0  से 5 साल तक बच्चों को पिलाई जायेगी पोलियो की खुराक

छपरा। छपरा जंक्शन पर चलने वाले पांच दिवसीय पोलियो अभियान की शुरूआत सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाकर की। होली में बाहर से घर आने वाले नौनिहालों को पोलिया की दवा पिलाई। उन्होने बाहर से घर आने वाले दंपतियों से अपील किया कि अपने बच्चों को पोलियों की दवा जरूर पिलायें। सभी लोग 0 से 05 वर्ष तक के सभी बच्चों को पोलियो की दवा जरूर पिलाएं। यह दवा बच्चों की ज़िन्दगी के लिए अतिआवश्यक है।जो पोलियो जैसी खतरनाक बीमारी से बच्चों की हिफाज़त करता है। पोलियो अभियान से जुड़े सभी कर्मीयों को पुरी ईमानदारी से अपने दायित्वों का निर्वहन करें, ताकी एक भी बच्चा इस अभियान से छुटने ना पाये। सीएस ने कहा कि बिहार को पोलियो मुक्त हुए 9 साल 4 माह हो गया है। अभी तक आफगनिस्तान एवं पाकिस्तान जैसे देशों में पोलियो का संक्रमण जारी है। ऐसी स्थिति में राज्य में भी पोलियों के इम्पोर्टेशन का खतरा बना हुआ है। यह अभियान 5 से 10 मार्च तक चलेगा।

 विषेश अभियान के तहत बच्चों की दी जा रही खुराक:

 जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अजय कुमार शर्मा ने कहा कि होली के दौरान बिहार में राज्य के बाहर से परिवारों का आगमन होता है। जिससे राज्य में भी पोलियो वायरस के आने की संभावना रहती है। ऐसे में होली के दौरान विषेश अभियान चलाकर बिहार आने वाले तथा जाने वाले बच्चों को पोलियों की खुराक पिलाने का निर्णय किया गया है। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य अधिक से अधिक लक्षित बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाना है। उन्होंने आम लोगों से अभियान के दौरान सहयोग करने की बात कही। उन्होंने बताया विश्व स्वास्थ्य संगठन की और से पोलियो फ्री इण्डिया का सर्टिफिकेट मिल चुका है। इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अजय कुमार शर्मा, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. रंजितेष कुमार, यूनिसेफ के एसएमसी आरती त्रिपाठी डॉ. राजीव रंजन सिंह समेत अन्य मौजूद थे।।

 


Posted by


जरूर पढ़ें