Live

- ट्रेनिंग सेंटर के लिए 05 करोड़ की राशि के लिए डीएम को भेजा गया प्रस्ताव, प्रस्ताव पर चल रही है आला अधिकारियों का मंथन 

- सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो इसी वर्ष चालू हो सकता है चालक प्रशिक्षण केंद्र

मुंगेर से रंजीत की विशेष रिपोर्ट

मुंगेर : राज्य का दूसरा चालक प्रशिक्षण केंद्र मुंगेर के हवेली खड़गपुर में खुलेगा। इसकी कवायद शुरू कर दी गई है। जिला परिवहन पदाधिकारी ने जिलाधिकारी को पत्र भी लिखा है। हाल के दिनों में जमीन के लिए 05 करोड़ की राशि आवंटित करने का प्रस्ताव भेजा गया है। सबकुछ ठीक रहा तो इस साल से ट्रेंनिग सेंटर का काम शुरू हो जाएगा। डीटीओ रामाशंकर प्रसाद ने ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर को लेकर 03 एकड़ के भूमिका भी चयन कर लिया है। औरंगाबाद के बाद मुंगेर के नक्सल प्रभावित हवेली खड़कपुर मे यह दूसरा सेंटर होगा। जिला परिवहन पदाधिकारी के द्वारा चालक प्रशिक्षण केंद्र के लिए डीएम को पत्र लिखा गया था। इधर प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक डीटीओ के प्रस्ताव पर जिला प्रशासन के आला अधिकारी मंथन कर रहे हैं ।संभावना व्यक्त की जा रही है छुट्टी से लौटने के बाद डीएम राजेश मीना अपनी हरी झंडी दे सकते हैं।

 भारी वाहनों के लिए प्रशिक्षण

 जिला परिवहन पदाधिकारी रामाशंकर ने बताया कि बिहार का पहला ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर औरंगाबाद जिला में बनाया गया है। जहां हर प्रकार के भारी वाहनों का प्रशिक्षण एक माह के लिए दिया जाता है। ट्रेनिंग सेंटर में रहने खाने की व्यवस्था भी सरकार की ओर से किया जाता है। बिहार में एकमात्र ट्रेनिंग सेंटर होने के वजह से भीड़ ज्यादा हो जाता है। जिस कारण प्रशिक्षण कर्ताओं को इंतजार भी करना पड़ता है। इसी को देखते हुए मुंगेर प्रमंडल का पहला ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है। 

 प्रोजेक्ट पर शुरू होगा जल्द काम

ट्रेनिंग सेंटर के अलावे कुछ विशेष कार्य के लिए प्रोजेक्ट हवेली खङगपुर के लिए तैयार किया गया है।

खुलने वाले ट्रेनिंग सेंटर में चालकों को हर तरह के वाहन चलाने के अलावे गाड़ियों के इंजन के बारे में भी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी का प्रशिक्षण दीया जाएगा जिसमें एंबुलेंस, ट्रक, ट्रैक्टर, बस, डंपर, जेसीबी के अलावे कई प्रकार के सवारी गाड़ी शामिल है।।


Posted by


जरूर पढ़ें