Live

एडवोकेट आशुतोष की रिपोर्ट

बेगूसराय : बरौनी थाना क्षेत्र के पपरैार  निवासी राजेंद्र राय की बेजा हरकतों से परेशान उसकी पत्नी  सीमा कुमारी को पति की करतूतों का विरोध करने पर जीरोमाइल गोपी ने सीमा को ही मुताले बनाते हुए जेल भेज दिया  और तो और जीरो माइल ओपी थानेदार के द्वारा नियम कानूनों को धता बताते हुए राजेंद्र राय को नियमानुसार सरकारी अस्पताल में इलाज कराने के बजाए प्राइवेट ग्लोकल अस्पताल में इलाज कराना काफी महंगा पड़ गया है विरोधियों की साजिश के तहत यह कार्य करना ग्लोकल अस्पताल एवं जीरो माइल ओपी प्रभारी को  काफी महंगा पड़ा है सीजीएम ठाकुर अमन कुमार ने ग्लोकल अस्पताल के निदेशक को  सो काज करते हुए चिकित्सा प्रतिवेदन के साथ अदालत में तलब किया और बुरी तरह फटकार लगाई सीजीएम ठाकुर अमन कुमार ने ग्लोकल अस्पताल के निदेशक को भविष्य में ऐसी गलती दोबारा करने पर अस्पताल को ही सीज करने की कड़ी चेतावनी दी है इसके बाद सीजीएम ठाकुर अमन कुमार ने  जीरो माइल ओपी प्रभारी को कारण परीक्षा एवं चिकित्सा प्रतिवेदन के साथ सोमवार को अदालत में हाजिर होने का फरमान जारी किया है अदालत ने कड़ी नाराजगी  जताते हुए अस्पताल निदेशक और जीरोमाइल ओपी प्रभारी से पूछा कि आखिर क्यों और किस परिस्थिति में किसके आदेश से नियम अनुकूल सरकारी अस्पताल में इलाज कराने के बजाए प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराया गया हालांकि ग्लोकल अस्पताल निदेशक के द्वारा  अदालत में दाखिल किया गया जख्म प्रतिवेदन सामान्य  बताया गया है  गौरतलब हो कि सीमा अपने पियक्कड़ पति से काफी परेशान चल रही है क्योंकि उसके पति राजेंद्र राय से अपने निवास की 3 कट्ठा जमीन  उसके कथित ग्रामीण लोगों ने लिखवा लिया है तबसे सीमा और राजेंद्र के बीच बराबर झगड़ा होते ।

रहता है जिसका बेजा फायदा उसके कथित तो ग्रामीणों ने उठाते हुए राजेंद्र को खिला पिलाकर जमीन लिखवा लिया है तब से दोनों पति-पत्नी के बीच बराबर झगड़ा होते रहता है जिसका विरोध करने पर ही सीमा को उल्टे मुकदमे में फंसा कर जेल भिजवा दिया गया अदालत में प्रस्तुत किए गए कागजातों एवं दी गई जानकारी के आधार पर सीजेएम ठाकुर अमन कुमार ने सारा माजरा समझते हुए असीमा को तत्काल जमानत देते हुए जीरोमाइल ओपी प्रभारी को अदालत में हाजिर होने का हुक्म दिया है ।।


Posted by

Pawan Kumar


जरूर पढ़ें