Live

सिटी रिपोर्टर

बरबीघा :- बेटियां किसी भी क्षेत्र में बेटों से कम नहीं होती है इसे चरितार्थ कर दिखाया बरबीघा के धर्मशाला रोड निवासी सदानंद प्रसाद की 23 वर्षीय पुत्री शालिनी कुमारी ने।शालिनी  बीपीएससी की परीक्षा में सफलता अर्जित करते हुए असिस्टेंट सेक्शन ऑफिसर के पद पर चुनी गई।पांच भाई और दो बहनों में सबसे बड़ी बहन शालिनी ने कई कठिनाइयों को पार करते हुए यह मुकाम हासिल किया है।उसकी प्रारंभिक शिक्षा बरबीघा में ही हुई उसने तैलिक बालिका उच्च विद्यालय से हाई स्कूल की परीक्षा करने के बाद स्थानीय और लाल कॉलेज से ग्रेजुएशन किया था। ग्रेजुएशन करने के बाद उसने ब्रिलिएंट कोचिंग सेंटर से बीपीएससी की तैयारी जारी रखी और घरेलू कार्यों को करते हुए उसने सफलता अर्जित कर इतिहास रच दिया। बीपीएससी द्वारा ऑफीसर रैंक के लिए 51 पोस्ट का परीक्षा लिया गया था जिसमें शेखपुरा जिले से 3 लोगों का चयन हुआ उसमें शालिनी इकलौती लड़की शामिल है। उसकी सफलता पर उसके माता-पिता तथा कोचिंग के संचालक गुलशन कुमार फूले नहीं समा रहे हैं।बधाई देने वालो का भी तांता लगा हुआ है। उसके पिता सदानंद प्रसाद ने कहा कि जो काम उसके बेटों ने नहीं किया वह उसकी बेटियों ने कर दिखाया है उन्हें अपनी बेटियों पर गर्व है ।।


Posted by

Pawan Kumar


जरूर पढ़ें