पूर्णियां :-के नगर स्थित कामाख्या मंदिर का सवा दो करोड़ की लागत से कायाकल्प होगा। मंदिर का सौन्दर्यीकरण होने से लोगों को रोजगार मिलेगा तथा इस क्षेत्र का विकास होगा। कला संस्कृति सह पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि और विधायक लेशी सिंह ने संयुक्त रूप से मन्दिर के जीर्णोद्धार का शिलान्यास किया। इस अवसर पर प्रसिद्ध कामाख्या मन्दिर के धर्मशाला में एक  कार्यक्रम का आयोजन किया गया। धमदाहा विधायक लेशी सिंह ने  कोरोना से बचने के लिए लोगों से मास्क पहनने की अपील की। पर्यटन मंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कामाख्या मंदिर को ऐतिहासिक मन्दिर बताया तथा यह भी कहा कि इस मंदिर की महिमा निराली है। उन्होंने कहा कि माता का दर्शन करने श्रद्धालु आसपास के जिले सहित पड़ोसी राज्य से भी पहुंचते हैं। हर मंगलवार को माता का दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं की काफी भीड़ लगी होती है। 8 एकड़ में मंदिर परिसर फैला है। कृष्ण कुमार ऋषि ने बताया कि मंदिर के सौंदर्यीकरण से समाज का विकास होगा और रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। 

इसलिए माता के मंदिर के सौन्दर्यीकरण के साथ मन्दिर परिसर को पर्यटन स्थान के रूप में विकसित किया जाएगा । जिससे यह मन्दिर जिले का गौरव बन सकेगा । वहीं मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि ने बताया कि माता कामाख्या का दर्शन करने लोग गौहाटी जाते थे। माता कामख्या की महिमा अपरंपार है जो यहाँ ठारी व्रत के समय हमने लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का भीड़ देखा है। सवा दो करोड़ की लागत से मन्दिर को पर्यटन स्थल के रूप में  विभिन्न प्रकार से सुसज्जित किया जाएगा । जिससे यहां आने वाले  श्रद्धालुओं को विशेष लाभ मिल सकेगा। धमदाहा विधायक  लेसी सिंह ने कहा कि मां कामाख्या मंदिर के सौंदर्यीकरण से मंदिर का स्वरूप बदलेगा बाहर से पर्यटक आएंगे तथा लोगों को रोजगार भी मिलेगा। इस मौके पर जदयू के वरिष्ठ नेता आशीष कुमार बब्बू, मुखिया सन्तोष मिश्रा जिला पार्षद सुनील मेहता के अलावा दर्जनों जदयू बीजेपी के कार्यकर्ता मौजूद थे।


Advertisements

Posted by : Raushan Pratyek Media

Follow On :


जरूर पढ़ें