राजू सिंह की रिपोर्ट

दरभंगा : जन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष सह सामाजिक विज्ञान संकाय से परिषद सदस्य दीपक झा ने मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति, कुलसचिव, अध्यक्ष छात्र कल्याण,परीक्षा नियंत्रक सभी को ज्ञापन देकर पीजी फोर्थ सेमेस्टर के नामांकन में ले रहे मोटी शुल्क को कम करने की मांग की। अभिलंब शुल्क कम नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी दी जिसकी सारी जवाबदेही विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी। उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के इस दौर में गरीब एवं मध्यम वर्ग आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। मिथिला विश्वविद्यालय अंतर्गत जीतने भी छात्र अध्ययनरत है सभी मध्यवर्गीय परिवार के छात्र हैं जो उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए इतनी मोटी रकम शुल्क के रूप में देने में सक्षम किसी भी रूप में नहीं हैं।विगत 2 वर्ष पूर्व छात्रों को 2500 रुपये में पीजी की पूरी पढ़ाई हो जाती थी परंतु छात्रों के ऊपर अचानक 6 गुना फीस बढ़ा के एक बहुत बड़ी आर्थिक दंश झेलने को मजबूर कर दिया जिस कारण यहां के छात्र उच्च शिक्षा प्राप्त करने में असमर्थ है।


Advertisements

Posted by : Raushan Pratyek Media

Follow On :


जरूर पढ़ें